रूस ने उक्रेनी राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की को डाला वांछित सूची में

रूस के गृह मंत्रालय का कहना है कि उसने उक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की को वांछित सूची में डाल दिया है।

2014 से 2019 तक उक्रेन के राष्ट्रपति रहे पेत्रो पोरोशेंको और उक्रेनी थल सेना कमांडर ओलेक्सांद्र पावलिउक को भी इस सूची में शामिल किया गया है।

रूसी अधिकारियों ने शनिवार को आपराधिक संहिता के उल्लंघन का हवाला दिया, लेकिन विस्तृत जानकारी नहीं दी।

शनिवार को ही उक्रेन के विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया देते हुए उस गिरफ़्तारी वॉरंट का हवाला दिया, जो अंतरराष्ट्रीय आपराधिक न्यायालय ने संदिग्ध युद्ध अपराधों के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के नाम जारी किया है।

मंत्रालय के वक्तव्य में कहा गया है कि ज़ेलेंस्की को वांछित सूची में डाले जाने की ख़बरें "रूसी तंत्र और दुष्प्रचार की हताशा दर्शाती हैं, जो यह नहीं समझ पा रहा है कि ध्यान खींचने के लिए और क्या नया किया जाए।"

अमरीकी विचार मंच, युद्ध अध्ययन संस्थान ने शनिवार को कहा कि रूस का निर्णय, संभवतः "उक्रेन की पश्चिम-समर्थक वर्तमान व पिछली सरकारों को बदनाम करने" तथा "उक्रेन को कूटनीतिक रूप से अलग-थलग करने" के प्रचार अभियान और व्यापक प्रयासों का हिस्सा है।