नये अमरीकी हिंद-प्रशांत कमान प्रमुख ने व्यक्त की चीन के प्रति सतर्कता

अमरीका की हिंद-प्रशांत कमान के नये प्रमुख एडमिरल सैमुअल पापारो ने चीन को लेकर कड़ी चेतावनी व्यक्त करते हुए क्षेत्र में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उद्देश्य से मित्र राष्ट्रों के साथ सहयोग बढ़ाने का अपना इरादा ज़ाहिर किया है।

पापारो शुक्रवार को हवाई द्वीप पर आयोजित एक समारोह में बोल रहे थे, जिसमें एडमिरल जॉन एक्विलीनो ने पापारो को कमान सौंपी।

पापारो ने कहा कि हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन की "बढ़ती घुसपैठ और विस्तारवादी योजनाओं" का जवाब देने के लिए अमरीका की हिंद-प्रशांत कमान को तैयार रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि मुक्त एवं स्वतंत्र हिंद-प्रशांत क्षेत्र को क़ायम रखने के लिए यह कमान, मित्र राष्ट्रों तथा सहयोगियों के साथ मिलकर काम करेगी।

रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन ने भी समारोह में अपनी बात रखी।

ऑस्टिन ने कहा कि चीन "एकमात्र ऐसा देश है, जिसके पास हिंद-प्रशांत क्षेत्र पर अपना प्रभुत्व जमा पाने और अपनी तानाशाही सोच के अनुरूप वैश्विक व्यवस्था को नया आकार दे पाने की इच्छा-शक्ति और बढ़ती क्षमता है।" ऑस्टिन ने कहा कि यही कारण है कि चीन उनके मंत्रालय के लिए "लगातार चुनौती" बना हुआ है।