नेतन्याहू राफ़ा पर आक्रमण करने पर अटल

इज़्रायल के प्रधानमंत्री बेन्यामिन नेतन्याहू ने कहा कि वह समझौता होने या ना होने पर भी दक्षिणी गाज़ा के राफ़ा शहर पर आक्रमण करेंगे।

नेतन्याहू ने मंगलवार को यह टिप्पणी बंधकों के रिश्तेदारों और शोक संतप्त परिवारों के साथ बैठक में की।

उन्होंने कहा, "यह विचार बेमानी है कि हम युद्ध के सभी लक्ष्य प्राप्त होने से पहले ही उसे रोक देंगे। "

प्रधानमंत्री ने "पूर्ण विजय प्राप्त करने के लिए" "राफ़ा में प्रवेश करने" और "हमास के लड़ाकों को नष्ट करने" का अपना दृढ़ संकल्प व्यक्त किया।

उनका यह बयान ऐसे समय आया है जब लड़ाई रोकने और इस्लामिक गुट हमास द्वारा बंधक बनाये गए लोगों की रिहाई पर बातचीत चल रही है। मिस्र समेत कई देश इस बातचीत में मध्यस्थता कर रहे हैं।

हमास पक्ष कथित तौर पर सोमवार को मिस्र में प्रस्तावित एक समझौते पर चर्चा कर रहा है। बंधकों की रिहाई की शर्त के रूप में गुट पूर्ण युद्ध विराम की माँग कर रहा है।

कतर स्थित समाचार एजेंसी अल जज़ीरा ने एक फ़िलिस्तीनी राजनीतिक विश्लेषक के हवाले से कहा कि नेतन्याहू की नवीनतम टिप्पणियों ने युद्ध विराम वार्ता के सभी प्रयासों पर पानी फेर दिया है।