चीन ने इलॉन मस्क को दिया विदेशी कंपनियों के समर्थन का आश्वासन

चीन के प्रधानमंत्री ली छ्यांग ने रविवार को राजधानी पेइचिंग में अमरीकी इलेक्ट्रिक वाहन कंपनी टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, इलॉन मस्क से मुलाक़ात की। ली ने ज़ोर देकर कहा कि चीन अपने यहाँ विदेशी कंपनियों का समर्थन करने को तैयार है।

पेइचिंग स्थित विदेश मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री ने चीन में टेस्ला के संचालन की सराहना करते हुए इसे अमरीका के साथ देश के आर्थिक और व्यापारिक सहयोग का एक सफल उदाहरण बताया।

ली ने द्विपक्षीय संबंधों के सतत् एवं स्थिर विकास को आगे बढ़ाने की चीन की मंशा पर ज़ोर दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि चीन का विशाल बाज़ार विदेशी कारोबारियों के लिए हमेशा खुला रहेगा। उन्होंने कारोबारी माहौल को बेहतर बनाने का वादा किया ताक़ि चीन में बिना किसी चिंता के निवेश किया जा सके।

कथित तौर पर मस्क ने शंघाई में टेस्ला के कारख़ाने को कंपनी का सबसे बेहतरीन प्रदर्शन करने वाला कारख़ाना बताया। उन्होंने कहा कि टेस्ला, चीन के साथ सहयोग को बढ़ाने के लिए अगला क़दम उठाने को तैयार है ताक़ि दोनों पक्षों को ज़्यादा फ़ायदा मिल सके।

अमरीकी और यूरोपीय मीडिया की ख़बरों के अनुसार माना जा रहा था कि मस्क, चीन में पूर्ण स्वचालित-ड्राइविंग यानि एफ़एसडी सॉफ़्टवेयर शुरू करने पर चर्चा करेंगे।

ली ने मस्क के साथ उस समय बातचीत की थी जब वे शंघाई में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के शीर्ष अधिकारी थे। उन दिनों ली ने विदेश से निवेश आकर्षित करने में मदद की थी, जिसमें टेस्ला के लिए शंघाई में कारख़ाना बनाने का समझौता भी शामिल था, जो अमरीका के बाहर उसका पहला कारख़ाना था।