गाज़ा के 48% स्कूल सीधे तौर पर बने इज़्रायली हमलों का शिकार

ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार 7 अक्तूबर को इज़्रायल पर हमास के हमले के बाद से गाज़ा में 800 से अधिक स्कूलों में से लगभग आधे स्कूल सीधे तौर पर इज़्रायली हमलों की चपेट में आ चुके हैं।

संयुक्त राष्ट्र बाल कोष यानि यूनिसेफ़ और सेव द चिल्ड्रन नामक अंतरराष्ट्रीय ग़ैर सरकारी संगठन ने बृहस्पतिवार को यह रिपोर्ट जारी की। उन्होंने अक्तूबर से लेकर अब तक स्कूलों को पहुँचे नुक़सान का विश्लेषण करने के लिए उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों तथा अन्य जानकारी का इस्तेमाल किया।

रिपोर्ट के अनुसार इज़्रायली बमबारी में गाज़ा के 813 स्कूलों में से 48 प्रतिशत को नुक़सान पहुँचा है। इनमें से कम से कम 59 स्कूल पूरी तरह से नष्ट हो गये हैं और उन्हें नये सिरे से बनाना पड़ेगा।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि 200 स्कूल सीधे हमलों से बच गये, लेकिन उनके खेल के मैदानों जैसी सुविधाओं को गंभीर नुक़सान पहुँचा।

रिपोर्ट में उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों को भी जगह दी गयी है, जिनमें स्कूल परिसरों में इज़्रायली टैंक देखे जा सकते हैं। रिपोर्ट के अनुसार ये तस्वीरें इस बात का सबूत हैं कि इज़्रायली सुरक्षा बलों ने स्कूली सुविधाओं का इस्तेमाल किया।

रिपोर्ट में संघर्ष को तत्काल रोकने तथा अंतरराष्ट्रीय मानवीय क़ानून के अनुरूप शैक्षणिक संस्थानों को सुरक्षित रखने के सभी आवश्यक उपाय अपनाने का आह्वान किया गया है।