चेर्नोबिल परमाणु ऊर्जा संयंत्र दुर्घटना की 38वीं बरसी

1986 की चेर्नोबिल परमाणु दुर्घटना में मारे गये लोगों की याद में शुक्रवार को उत्तरी उक्रेन में एक समारोह आयोजित किया गया।

प्रतिभागियों द्वारा समाधि स्थल पर पुष्प अर्पित करने के बाद, उक्रेन की सर्वोच्च परिषद् की पर्यावरण नीति समिति के अध्यक्ष ओलेह बोन्दारेन्को ने चेर्नोबिल संयंत्र में आग बुझाने वालों की प्रशंसा करते हुए कहा कि इस क़दम ने दुनिया को विकिरण आपदा से बचाया था।

उक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर ज़ेलेंस्की ने उसी दिन सोशल मीडिया पर लिखा कि "रूस पर दबाव डालना पूरी दुनिया की ज़िम्मेदारी है" ताकि ज़ापोरीझ़ा परमाणु ऊर्जा संयंत्र को मुक्त करवा कर सभी उक्रेनी परमाणु सुविधाओं की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने कहा, "नयी विकिरण आपदाओं को रोकने का यही एकमात्र तरीक़ा है।"