जापान का कारोबारी जगत कमज़ोर येन से परेशान

जापान में कारोबारी जगत ने शुक्रवार को डॉलर के मुकाबले येन में और अधिक गिरावट के बाद, देश के केन्द्रीय बैंक से समायोजन करने की माँग तेज़ कर दी है। मौद्रिक नीति को अपरिवर्तित रखने के बैंक ऑफ़ जापान के निर्णय के बाद यह गिरावट आयी है।

बैंक ऑफ़ जापान यानि बीओजे ने मार्च में बनी नीति को जारी रखने का फ़ैसला किया, जब अल्पावधि दरों को शून्य से 0.1 प्रतिशत के बीच रखा गया था। बैंक का कहना है कि वह इन दरों को जारी रखेगा।

बीओजे के गवर्नर उएदा काज़ुओ ने शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जापान की बुनियादी मुद्रास्फीति दर पर कमज़ोर येन का कोई बड़ा प्रभाव नहीं पड़ा है।

उन्होंने इस विचार को दुहराया कि बीओजे फ़िलहाल अपनी उदार मौद्रिक नीति जारी रखेगा।

उएदा ने यह भी कहा कि अगर समस्त कीमतों पर कमज़ोर येन का प्रभाव नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सका, तो मौद्रिक नीति बदलने पर कोई निर्णय लिया जा सकता है।

लेकिन उनकी टिप्पणी को येन के अवमूल्यन को नियंत्रण में रखने की दिशा में एक मज़बूत संदेश के रूप में नहीं देखा गया, और परिणामस्वरूप निवेशकों ने येन मुद्रा की बिकवाली की।

येन की कीमत 34 वर्षों के निम्नतम स्तर पर पहुँच गयी है और व्यापारी, सरकार व बीओजे द्वारा बाज़ार में संभावित हस्तक्षेप पर पैनी नज़र रख रहे हैं।