अमरीकी विदेश मंत्री ने की चीनी राष्ट्रपति से मुलाकात

अमरीकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने चीन यात्रा के दौरान शुक्रवार को राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात की। इससे पहले उन्होंने चीन के विदेश मंत्री वांग यी से भी मुलाकात की थी।

पेइचिंग में ब्लिंकन के साथ वार्ता के शुरू में शी ने कहा कि दोनों देशों को प्रतिद्वंद्वी नहीं बल्कि साझेदार होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि संवाद को मज़बूत करना और सहयोग को बढ़ावा देना न केवल दोनों देशों के लोगों की इच्छा है, बल्कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय भी यही अपेक्षा रखता है।

शी ने आगे कहा कि पिछले कुछ महीनों में दोनों देशों ने संवाद बनाये रखा और इसमें कुछ प्रगति भी की है। लेकिन उन्होंने कहा कि अब भी कई मुद्दे हैं जिन पर ध्यान देने की ज़रूरत है तथा आगे भी प्रयास करते रहने की आवश्यकता है।

इसके जवाब में ब्लिंकन ने कहा कि अमरीका और चीन गलतफ़हमी व गलत आकलनों से बचने के लिए मतभेदों पर विचार करते हुए बातचीत को आगे बढ़ा रहे हैं।

शी के साथ बैठक से पहले, ब्लिंकन ने वांग के साथ बातचीत की।

चीन के विदेश मंत्रालय के अनुसार, वांग ने ब्लिंकन से कहा कि चीन-अमरीका संबंधों में ताइवान वह लक्ष्मण रेखा है जिसे कभी पार नहीं किया जाना चाहिए। खबर है कि उन्होंने अमरीका से आग्रह किया कि वह ताइवान को हथियार मुहैया कराना बंद करे।

वांग ने यह भी कहा कि अमरीका को चीन का आर्थिक विकास में रोड़े अटकाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।

ब्लिंकन ने इस बात से इन्कार किया कि अमरीका चीन के साथ टकराव चाहता है या उसके आर्थिक विकास में बाधा डालना चाहता है।

दोनों पक्षों ने कथित तौर पर द्विपक्षीय संबंधों में स्थिरता लाने और उनमें प्रगति के लिए प्रयास जारी रखने पर सहमति व्यक्त की।