ख़ामेनेई ने नहीं किया इज़्रायल की कथित जवाबी कार्रवाई का ज़िक्र

ईरान के सर्वोच्च नेता आयातोल्ला अली ख़ामेनेई ने इज़्रायल पर देश के हालिया हमले की प्रशंसा की है, लेकिन इज़्रायल की कथित जवाबी कार्रवाई का उल्लेख नहीं किया।

ईरान ने 13 अप्रैल को इज़्रायल पर एक बड़ा हमला शुरू किया था। इसके बाद शुक्रवार को मध्यवर्ती ईरान में कई विस्फोट होने की ख़बर आयी थी, जिनके बारे में कई अमरीकी मीडिया केंद्रों का कहना है कि ये इज़्रायल की जवाबी कार्रवाई थी।

ईरान के सरकारी टेलीविज़न ने ख़बर दी है कि ख़ामेनेई ने रविवार को देश के सशस्त्र बलों के कमांडरों से बात की। अपने भाषण में ख़ामेनेई ने ईरानी हमले का ज़िक्र करते हुए कहा कि दूसरे पक्ष को इस बात की परवाह है कि कितनी मिसाइलें दाग़ी गयीं या कितनी मिसाइलों ने अपने लक्ष्य साधे, लेकिन अहम यह है कि ईरानी लोगों और सेना ने दुनिया को अपनी इच्छाशक्ति दर्शा दी है।

ख़ामेनेई ने इज़्रायल की कथित जवाबी कार्रवाई पर कोई टिप्पणी नहीं की।

पर्यवेक्षकों के अनुसार ख़ामेनेई ने संकेत दे दिया है कि फ़िलहाल देश का और हमले करके तनाव बढ़ाने का कोई इरादा नहीं है।

शनिवार को इराक़ स्थित ईरान समर्थित लड़ाका गुट के एक अड्डे पर अज्ञात कारणों से एक विस्फोट की ख़बर भी सामने आयी थी।