एसडीएफ़ व जेसीजी के उपयोग के लिए 16 हवाईअड्डे व बंदरगाह नामित

जापान सरकार ने देश-भर के 16 हवाईअड्डों व बंदरगाहों को नामित किया है, जिनका इस्तेमाल आत्मरक्षा बल यानि एसडीएफ़ और जापान तटरक्षक बल यानि जेसीजी कर सकेंगे।

सरकार, आकस्मिक स्थिति से निपटने की तैयारी में तेज़ी लाने तथा राष्ट्रीय रक्षा क्षमता बढ़ाने के अपने प्रयासों के तहत स्थानीय सरकारों के साथ चर्चा करती आयी है कि किन प्रतिष्ठानों को नामित किया जाना चाहिए।

सोमवार को संबंधित कैबिनेट मंत्रियों ने इन मनोनीत स्थानों को मंज़ूरी दी।

इस उद्देश्य के लिए 5 हवाईअड्डों तथा 11 बंदरगाहों की सुविधाओं में सुधार किया जाएगा। सरकार का कहना है कि एसडीएफ़ और जेसीजी के विमान तथा समुद्री जहाज़ अपने अभ्यासों व अन्य उद्देश्यों के लिए इन प्रतिष्ठानों का सुगमता से उपयोग कर सकेंगे।

इन हवाईअड्डों में दक्षिणी प्रीफ़ैक्चर ओकिनावा स्थित नाहा हवाईअड्डा तथा दक्षिणपश्चिमी क्षेत्र क्यूशू स्थित मियाज़ाकि, नागासाकि, फ़ुकुए और किताक्यूशू के हवाईअड्डे शामिल हैं।

वहीं मनोनीत बंदरगाहों में ओकिनावा का इशिगाकि बंदरगाह, क्यूशू का हाकाता बंदरगाह, पश्चिमी क्षेत्र शिकोकु स्थित कोचि, सुसाकि, सुकुमो खाड़ी तथा ताकामात्सु बंदरगाह और उत्तरी प्रीफ़ैक्चर होक्काइदो स्थित मुरोरान बंदरगाह, कुशिरो बंदरगाह, रुमोइ बंदरगाह, तोमाकोमाइ बंदरगाह और इशिकारि-बे न्यू पोर्ट शामिल हैं।

सरकार ऐसे मनोनीत प्रतिष्ठानों की संख्या बढ़ाने के लिए स्थानीय अधिकारियों के साथ और व्यवस्था करना चाहती है।