गाज़ा संघर्ष पर बदले अमरीकियों के विचार

गाज़ा पर हुए हमले के शुरुआती दिनों में अमरीका में कई लोग इज़्रायल के समर्थन में खड़े थे लेकिन 32,000 से अधिक लोगों के मारे जाने के बाद अधिकतर अमरीकियों ने असंतोष व्यक्त किया है।

गैलप के सर्वेक्षणकर्ताओं ने 1 से 20 मार्च के बीच एक सर्वेक्षण किया था जिसमें यह पूछा गया कि वे इज़्रायली सैन्य कार्रवाई का समर्थन करते हैं या नहीं। 55 प्रतिशत ने इससे मना किया और केवल 36 प्रतिशत ने ही इसका समर्थन किया। ग़ौरतलब है कि नवंबर में हुए सर्वेक्षण में 50 प्रतिशत लोगों ने इसका समर्थन किया था।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् द्वारा सोमवार को पेश युद्धविराम प्रस्ताव को पारित करने से पहले यह सर्वेक्षण किया गया था। अमरीकी प्रतिनिधियों ने पिछले प्रस्तावों को वीटो कर दिया था लेकिन इस बार उन्होंने प्रक्रिया से बाहर रहकर इज़्रायल को नाराज़ कर दिया।

इज़्रायल के प्रधानमंत्री बेन्यामिन नेतनयाहू ने बुधवार को येरुशलम में अमरीकी सांसदों के साथ हुई एक बैठक में इस क़दम की आलोचना करते हुए कहा, "इस प्रस्ताव ने हमास को कड़ा रुख़ अपनाने और यह विश्वास करने का प्रोत्साहन दिया है कि अंतरराष्ट्रीय दबाव के कारण इज़्रायल बंधकों को मुक्त कराने और हमास का ख़ात्मा करने में सफल नहीं होगा।"