मॉस्को हमले के बाद तेज़ हो सकते हैं रूस व उक्रेन के आपसी हमले

मॉस्को के उपनगर में स्थित कॉन्सर्ट हॉल पर शुक्रवार को हुए आतंकी हमले के बाद रूस और उक्रेन के आपसी हमले तेज़ हो सकते हैं।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन परोक्ष रूप से संकेत दे चुके हैं कि इस सामूहिक हत्याकांड में उक्रेन का हाथ था, जबकि उक्रेन ने हमले से किसी भी तरह का संबंध होने से साफ़ इन्कार किया है।

उक्रेनी वायु सेना ने रविवार को बताया कि रूस ने उक्रेन पर 57 क्रूज़ मिसाइलें दाग़ीं और ड्रोन विमान भेजे, जिनमें से 43 को मार गिराया गया है।

अब तक किसी के घायल होने की कोई ख़बर नहीं है।

लेकिन उक्रेन के पश्चिमी क्षेत्र लवीव के गवर्नर का कहना है कि एक ऊर्जा प्रतिष्ठान पर 2 किन्ज़ाल हाइपरसॉनिक मिसाइलें गिरीं, जिससे वहाँ आग लग गयी।

रविवार को ही उक्रेनी सेना ने बताया कि उसने रूस नियंत्रित क्रीमिया प्रायद्वीप में बंदरगाह शहर सेवास्तोपोल पर किये अपने हमलों में 2 बड़े रूसी जहाज़ों को निशाना बनाया।

रूस की सरकारी संवाद एजेंसी ने ख़बर दी है कि उक्रेन ने शनिवार को क्रीमिया पर 10 से अधिक मिसाइलें दाग़ीं। एजेंसी का कहना है कि मार गिरायी गईं मिसाइलों के मलबे से एक व्यक्ति की मौत हो गयी और 4 घायल हो गये।