मॉस्को हमले के सिलसिले में 11 लोग हिरासत में

रूस की सरकारी समाचार एजेन्सी के अनुसार राष्ट्रपति कार्यालय को खबर मिली है कि मॉस्को के बाहरी इलाके में शुक्रवार शाम कॉन्सर्ट हॉल में हुए घातक हमले के सिलसिले में 11 लोगों को हिरासत में लिया गया है।

समझा जाता है कि देश की संघीय सुरक्षा सेवा ने राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को खबर दी है कि पकड़े गये 11 में से 4 लोग कथित आतंकवादी हमले में सीधे शामिल थे।

रूसी अधिकारियों का कहना है कि हॉल में बंदूकधारियों की गोलीबारी में 93 लोग मारे गये। खबर है कि इमारत में हमले के बाद आग लग गयी।

यह हमला राजधानी मॉस्को के पश्चिमोत्तर में क्रास्नोगोर्स्क शहर में हुआ, जब लोग एक लोकप्रिय बैंड का संगीत कार्यक्रम शुरू होने का इंतज़ार कर रहे थे।

उक्रेन ने इस हमले में हाथ होने से इन्कार किया है। गौरतलब है कि उक्रेन में रूस का सैन्य आक्रमण जारी है।

इस्लामिक स्टेट गुट से जुड़ी अमाक़ समाचार एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि गुट के लड़ाकों ने ईसाइयों की भीड़ पर हमला कर, "सैकड़ों को मार डाला और घायल कर दिया" तथा इमारत को गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त कर दिया।

वॉल स्ट्रीट जर्नल सहित समाचार एजेन्सियों ने खबर दी कि अमरीका ने इस महीने के शुरू में रूस को कट्टरपंथी हमलों की आशंका के बारे में सूचित किया था।

उन्होंने अमरीकी अधिकारियों के हवाले से यह जानकारी दी थी।

अमरीका और रूस दोनों का ही इस्लामिक स्टेट गुट का सफ़ाया करने का लक्ष्य है और उन्होंने अतीत में आतंकवादी खतरों के बारे में जानकारी साझा की है।

उक्रेन को लेकर अमरीका और रूस के बीच गहरे मतभेद हैं, लेकिन ऐसा लगता है कि इसके बावजूद अमरीका ने आतंकवाद के खिलाफ़ उठाये जा रहे कदमों के अनुरूप रूस को जानकारी प्रदान की।