निक्केइ 225 ने छुआ एक और सर्वोच्च स्तर

तोक्यो शेयर बाज़ार का मानक सूचकांक निक्केइ औसत शुक्रवार को लगातार दूसरे सत्र में अपने सर्वोच्च स्तर पर पहुँच गया, जिसका आंशिक कारण येन मुद्रा का कमज़ोर होना रहा। ऐसा तब हुआ जब न्यूयॉर्क शेयर बाज़ार के तीनों प्रमुख सूचकांक लगातार दो दिनों तक रिकॉर्ड ऊँचाई पर बंद हुए।

शुक्रवार को निक्केइ औसत एक दिन पहले की तुलना में 72 अंक यानि 0.2 प्रतिशत चढ़कर 40,888 पर बंद हुआ। कारोबारी समय में एक समय वह 270 अंक से अधिक चढ़ गया था। डॉलर के मुक़ाबले येन कमज़ोर होने के कारण निवेशकों ने निर्यात-संबंधी शेयर ख़रीदे।

निक्केइ सूचकांक में पिछले चार कारोबारी दिनों से बढ़त बनी हुई है। यह बढ़त सोमवार को शुरू हुई, जिसके अगले दिन बैंक ऑफ़ जापान ने 17 साल में पहली बार ब्याज दरें बढ़ायी थीं।