जापान-अमरीका शिखर सम्मेलन में जापान-ऑकस प्रौद्योगिकी सहयोग पर चर्चा संभव

अमरीका सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने संकेत दिया है कि अगले महीने नियोजित जापान-अमरीका शिखर सम्मेलन में जापान और ऑकस के बीच तकनीकी सहयोग पर चर्चा होगी। ऑकस, ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और अमरीका की सुरक्षा व्यवस्था है।

बृहस्पतिवार को तोक्यो में पत्रकारों से बात करते हुए, अमरीकी उप विदेश मंत्री कर्ट कैंपबेल ने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडन और जापान के प्रधानमंत्री किशिदा फ़ुमिओ, वॉशिंगटन में अपनी बैठक में इस विषय पर चर्चा कर सकते हैं।

चीन की बढ़ती समुद्री गतिविधियों के मद्देनज़र त्रिपक्षीय ऑकस साझेदारी 2021 में शुरू की गयी थी।

ऑकस के वर्तमान में दो स्तंभ हैं, जिनमें से एक है ऑस्ट्रेलिया में परमाणु ऊर्जा चालित पनडुब्बियों की तैनाती और दूसरा है उन्नत प्रौद्योगिकी तथा उद्योगों के क्षेत्र में सहयोग।

कैंपबेल ने कहा कि वे सुरक्षा क्षेत्र में परमाणु प्रौद्योगिकी के उपयोग पर जापान का रुख समझते हैं। उन्होंने कहा कि ऑकस का दूसरा स्तंभ शिखर सम्मेलन के एजेंडे में शामिल किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि बाइडन और किशिदा, रोबोटिक इंजीनियरिंग और साइबर प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में सहयोग पर चर्चा सकते हैं।