फ़िलीपींस के ख़िलाफ़ चीन की कार्रवाई से अमरीकी कमांडर चिंतित

हिंद-प्रशांत क्षेत्र में अमरीका के कमांडर जॉन एक्विलिनो ने गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए कहा है कि दक्षिण चीन सागर में फ़िलीपींस के ख़िलाफ़, चीन की बार-बार की जा रही आक्रामक कार्रवाई ने इस क्षेत्र को "चिंता का विषय" बना दिया है।

एक्विलिनो, बुधवार को संसद की सशस्त्र सेवा समिति की सुनवाई में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि "क्षेत्र में स्थिति बदतर हो सकती है।"

विवादित क्षेत्र, सेकेंड थॉमस शोल के पास 5 मार्च को एक चीनी तट रक्षक जहाज़ द्वारा फ़िलीपींस की आपूर्ति नौका पर पानी की बौछार किये जाने के बाद एक्विलिनो ने यह टिप्पणी की। इस घटना में फ़िलीपींस के चालक दल के 4 सदस्य घायल हो गये थे।

कमांडर ने कहा कि अमरीका के सहयोगियों के ख़िलाफ चीन की "लगातार जारी भड़काऊ, आक्रामक व ख़तरनाक गतिविधियाँ" चिंताजनक हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि यदि कोई फ़िलीपींस का नाविक या सैनिक मारा जाता है तो पारस्परिक रक्षा संधि के अनुच्छेद पाँच के अनुसार कार्रवाई की जा सकती है।

उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि यदि ऐसा होता है तो रक्षा मंत्री को संभावित जवाबी कार्रवाइयों की जानकारी देना, "आवश्यक होने के साथ-साथ उनकी ज़िम्मेदारी" भी होगी।

वॉशिंगटन में 11 अप्रैल को होने वाले जापान, अमरीका और फ़िलीपींस के त्रिपक्षीय शिखर सम्मेलन में इस मुद्दे पर चर्चा हो सकती है।