नावाल्नी की विधवा व अन्य ने पुतिन के विरोध में किया मतदान

रूस के दिवंगत विपक्षी नेता एलेक्सेइ नावाल्नी की विधवा और कई रूसियों ने रविवार को जर्मनी की राजधानी में रूसी दूतावास में राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के ख़िलाफ़ मतदान किया।

यूलिया नावल्नाया ने बर्लिन में रूसी दूतावास में राष्ट्रपति चुनाव की लंबी क़तार में लगकर मतदान किया। रविवार को मतदान का अंतिम दिन था।

दूतावास में रूसियों ने नावल्नाया के साथ अपनी एकजुटता व्यक्त करने के लिए नारे लगाये। उन्होंने रूस से उक्रेन में सैन्य अभियान तुरंत रोकने की भी माँग की।

नावल्नाया ने विरोध प्रदर्शन में भाग लेने के लिए अपने हमवतन लोगों का आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने पति का नाम मतदान पर्ची पर लिखा और उसे मतपेटी में डाल दिया।

अपने पति के संदर्भ में उन्होंने यह भी कहा कि यह स्वीकार्य नहीं है कि राष्ट्रपति चुनाव से एक महीने पहले पुतिन का मुख्य प्रतिद्वंद्वी, जो पहले से ही कारावास में था, मार दिया जाए।

रूसी अधिकारियों का कहना है कि नावाल्नी की पिछले महीने आर्कटिक कारावास में मृत्यु हो गयी थी।

एक 25 वर्षीया रूसी महिला ने कहा कि पुतिन "बहुत, बहुत बुरे व्यक्ति" हैं जिन्होंने "इतने सारे लोगों को मार डाला।" उन्होंने यह भी कहा कि वह "बहुत निराश" है कि रूस में "निष्पक्ष चुनाव" नहीं हो रहे।