घोटाले से घिरी दाइहात्सु ने बहाल किया आंशिक उत्पादन

दाइहात्सु मोटर ने जापान में अपना उत्पादन डेढ़ महीने तक स्थगित रखने के बाद उसे आंशिक रूप से बहाल कर दिया है। फ़र्ज़ी परीक्षणों से प्रमाण-पत्र हासिल करने की ख़बरें सामने आने के बाद दाइहात्सु ने जापान स्थित अपने सभी कारख़ानों में उत्पादन रोक दिया था।

सोमवार को क्योतो प्रीफ़ैक्चर स्थित कंपनी के कारख़ाने में तोयोता ब्राँड की प्रोबॉक्स और माज़्दा ब्राँड की फ़ैमिलियावैन का उत्पादन बहाल हुआ।

कंपनी ने 26 फ़रवरी से अपनी सहायक दाइहात्सु मोटर क्यूशू में 10 अन्य मॉडलों का उत्पादन बहाल करने का भी निर्णय लिया है।

घोटाले की ख़बरें आने के बाद दाइहात्सु ने दिसम्बर अंत में अपने सभी 4 घरेलू कारख़ाने बंद कर दिये थे। बाद में सरकारी मानकों पर खरे उतरने वाले कुछ मॉडलों को बाज़ार में भेजने की अनुमति दी गयी थी।

लेकिन उद्योग मंत्री साइतो केन ने आगाह किया है कि दाइहात्सु को अब भी कड़ी मेहनत करनी होगी ताकि ऐसी गड़बड़ी दुबारा न हो।

साइतो ने कहा कि “दाइहात्सु को अपनी क़ारोबारी संस्कृति से छुटकारा पाना होगा, जिसकी वजह से ही यह धांधली हुई। उसे रोकथाम के उचित क़दम उठाने होंगे।”

सरकार, दाइहात्सु के प्रमुख मॉडल, तान्तो सहित अन्य मॉडलों का सत्यापन कर रही है।

दाइहात्सु इन मॉडलों का उत्पादन कम से कम 1 मार्च तक नहीं करेगी।