उक्रेन के पतन की स्थिति में जर्मनी को बड़े पैमाने पर पलायन की आशंका

जर्मनी के समाचार पत्र डी वेल्ट का कहना है कि सरकार मानती है कि अगर उक्रेन रूस से हार गया तो लगभग 1 करोड़ लोग देश छोड़ देंगे।

अख़बार ने जर्मनी के सुरक्षा सूत्रों का हवाला देते हुए शनिवार को अपने ऑनलाइन संस्करण में यह ख़बर प्रकाशित की। इसमें कहा गया है कि अधिकांश शरणार्थी पश्चिमी यूरोप की ओर पलायन करेंगे, जिसमें जर्मनी भी शामिल है।

डी वेल्ट ने जर्मनी के एक सांसद के हवाले से यह भी कहा कि अगर उक्रेन के लिए समर्थन रणनीति नहीं बदली गयी तो सबसे बुरी स्थिति में उक्रेन से बड़े पैमाने पर पलायन के साथ-साथ, नाटो के सदस्य देश भी युद्ध की चपेट में आ जाएँगे।

अख़बार ने उक्रेन के लिए यूरोपीय देशों का सैन्य समर्थन बढ़ाने के महत्त्व का उल्लेख किया क्योंकि यह स्पष्ट नहीं है कि अमरीकी सहायता जारी रहेगी या नहीं।