राफ़ा पर इज़्रायली हमले में 44 की मौत की ख़बर

दक्षिणी गाज़ा के राफ़ा शहर में इज़्रायली सेना की नियोजित ज़मीनी कार्रवाई शुरू होने से पहले शहर पर उसके हवाई हमले तेज़ हो गये हैं। इज़्रायल के अनुसार शनिवार को राफ़ा पर किये गए हवाई हमले में हमास का एक सरगना मारा गया। समाचार एजेंसी, एपी ने ख़बर दी है कि राफ़ा के रिहायशी इलाक़ों पर शुक्रवार रात से शनिवार तक हुए इज़्रायली हवाई हमलों में 12 से अधिक बच्चों सहित कम से कम 44 लोग मारे गये हैं।

इज़्रायल, राफ़ा में ज़मीनी कार्रवाई शुरू करने की धमकी दे रहा है। ग़ौरतलब है कि राफ़ा में 10 लाख से अधिक फ़िलिस्तीनियों ने शरण ली हुई है। कुछ देशों ने आगाह किया है कि इस कार्रवाई से बड़ी संख्या में लोग हताहत हो सकते हैं।

क़तर के विदेश मंत्रालय ने शनिवार को एक वक्तव्य जारी कर कहा कि वह राफ़ा शहर पर हमला करने की इज़्रायली धमकी की कड़े शब्दों में निंदा करता है। क़तर, इज़्रायल और हमास के बीच शांति वार्ता में मध्यस्थता करता आया है।

इस बीच, इज़्रायली सेना ने शनिवार को घोषणा की कि उसे एक सुरंग मिली है, जो यूएनआरडब्ल्यूए मुख्यालय की इमारत के नीचे से गुज़रती है।

इज़्रायली सेना के अनुसार 700 मीटर लंबी यह सुरंग 18 मीटर गहरी है। उसका यह भी कहना है कि बिजली के तार मुख्यालय से जुड़े हैं, जिससे संकेत मिलता है कि यूएनआरडब्ल्यूए ही सुरंग को बिजली मुहैया करा रहा था।

हालाँकि, क्षेत्र में फ़िलिस्तीनी शरणार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्र राहत एवं कार्य एजेंसी यानि यूएनआरडब्ल्यूए के महा-आयुक्त फ़िलिप लाज़ारीनी का कहना है कि उनके संगठन को नहीं पता था कि गाज़ा स्थित उसके मुख्यालय के नीचे क्या है। उन्होंने यह भी बताया कि यूएनआरडब्ल्यूए के कर्मचारी, पिछले साल अक्तूबर में यह स्थान छोड़ कर चले गये थे।