सांस्कृतिक धरोहरों के जीर्णोद्धार और शिक्षा बहाली हेतु उक्रेन का समर्थन करेगा जापान

जापान ने संयुक्त राष्ट्र सांस्कृतिक एजेंसी यानि यूनेस्को के माध्यम से उक्रेन में सांस्कृतिक धरोहरों के जीर्णोद्धार तथा शिक्षा और मीडिया की बहाली के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करने की पेशकश की है।

बुधवार को पेरिस स्थित यूनेस्को मुख्यालय में हस्ताक्षर समारोह आयोजित किया गया। इस समारोह में यूनेस्को में जापान के राजदूत कानो ताकेहिरो ने यूनेस्को महानिदेशक ऑड्री अज़ूले और फ़्राँस में उक्रेन के राजदूत वादिम ओमेलचेंको ने भाग लिया।

कानो और अज़ूले के दस्तावेज़ पर हस्ताक्षर करने के बाद ओमेलचेंको ने समर्थन के लिए जापान और यूनेस्को को धन्यवाद दिया।

जापानी अधिकारियों का कहना है कि देश इस साल उक्रेन को लगभग 1 करोड़ 46 लाख डॉलर की सहायता उपलब्ध कराएगा। ग़ौरतलब है कि रूस और उक्रेन के बीच लड़ाई जारी है।

यह धनराशि ओदेसा के ऐतिहासिक केंद्र में विश्व धरोहर स्थलों की मरम्मत और संरक्षण हेतु कर्मियों को प्रशिक्षित करने में मदद करेगी, जिन्हें रूसी मिसाइल हमलों से नुक़सान हुआ है। इस अनुदान का उपयोग शिक्षकों के प्रशिक्षण हेतु भी किया जाएगा ताकि वे मनोवैज्ञानिक तनाव से पीड़ित बच्चों और छात्रों के लिए मानसिक स्वास्थ्य देखभाल प्रदान कर सकें।