फ़ुकुशिमा दाइइचि परमाणु बिजली घर से लीक हुआ दूषित जल

तोक्यो इलेक्ट्रिक पावर कंपनी यानि टेप्को का कहना है कि फ़ुकुशिमा दाइइचि परमाणु बिजली घर के कर्मचारियों को पता चला है कि फ़िल्टर उपकरण के बाहरी मुख से अप्रशोधित जल लीक हो गया है।

संयंत्र की संचालक कंपनी ने कहा कि लीक हुए जल के कुछ भाग का रिसाव ज़मीन में हो गया। माना जा रहा है कि इस जल में मानक स्तर से 220 गुणा अधिक रेडियोधर्मी पदार्थ मौजूद हैं, जिसकी सूचना सरकार को देना अनिवार्य है।

टेप्को ने कहा कि रिसाव का पता बुधवार सुबह 9 बजे से कुछ देर पहले चला।

बिजली घर का कहना है कि संभवतः यह रिसाव तब हुआ जब जाँच के दौरान कर्मियों द्वारा फ़िल्टर उपकरण में मौजूद दूषित जल को बहाते समय एक वॉल्व खुला रह गया।

उपकरण के अंदर पानी का प्रवाह रुकने पर रिसाव बंद हो गया।

लेकिन टेप्को का अनुमान है कि क़रीब 5.5 टन पानी बह गया है।

कंपनी का अनुमान है कि लीक हुए पानी में लगभग 22 अरब बेक्वेरल सीज़ियम-137 और अन्य रेडियोधर्मी पदार्थ मौजूद हैं, जो गामा किरणें उत्सर्जित करते हैं। यह स्तर 10 करोड़ बेक्वेरल से अधिक होने पर सरकार को सूचित करना अनिवार्य होता है।

टेप्को का कहना है कि उसने संयंत्र के बाहर पर्यावरण पर किसी तरह के दुष्प्रभाव की पुष्टि नहीं की है।

लेकिन लीक हुआ पानी ज़मीन में चले जाने के चलते, टेप्को इस जल और आसपास की मिट्टी को हटाने की योजना बना रही है।