अस्थायी आवासों में जा रहे हैं इशिकावा भूकंप पीड़ित

जापान सागर तट पर 1 जनवरी को आये भूकंप से बेघर हुए कुछ लोगों को अस्थायी मकान उपलब्ध कराये गए हैं। ग़ौरतलब है कि इशिकावा प्रीफ़ैक्चर में 8,000 से अधिक लोग अब भी पलायन केन्द्रों में रह रहे हैं।

शनिवार को भूकंप प्रभावित लोगों ने पहले चरण में वाजिमा शहर में बने इन अस्थायी आवासों में जाना शुरू किया।

एक 76 वर्षीया महिला, भूकंप के बाद लगी आग में अपना मकान गवांने के बाद से अपनी बेटी के परिवार के साथ पलायन केंद्र में रह रही थी। अस्थायी आवास में जाने पर इस महिला ने कहा कि “यहाँ चैन की साँस ली जा सकती है। अब दूसरों के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं।”

कुल 18 परिवार यानि 55 लोग, इन अस्थायी आवासों में रहेंगे। ये लोग या तो आपदा में अपने मकान गवां चुके हैं या वे इतने वृद्ध हैं कि उन्हें अतिरिक्त देखभाल की ज़रूरत है।

शहर के अधिकारियों को अस्थायी आवासों के लिए 4,000 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए हैं।

इशिकावा प्रीफ़ैक्चर, मार्च के अंत से पहले 3,000 आवास बनाना शुरू कर देगा, जिनमें से 1,300 का निर्माण-कार्य उसी माह के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा।