2023 में जापानी कंपनियों में रिकॉर्ड निजी डाटा हुआ लीक

एक सर्वेक्षण से ज्ञात हुआ है कि 2023 में जापान में कंपनियों के पास मौजूद व्यक्तिगत डाटा लीक होने के मामलों की संख्या रिकॉर्ड स्तर पर रही।

तोक्यो शोको शोध संस्था ने कहा कि सूचीबद्ध कंपनियों और उनकी सहायक कंपनियों ने पिछले साल डाटा लीक होने के 175 मामलों की जानकारी दी। पिछले वर्ष की तुलना में यह 10 मामले अधिक है, और 2012 में सर्वेक्षण शुरू होने के बाद से सर्वाधिक संख्या है।

इसकी सबसे आम वजह कंप्यूटर वायरस और उपकरण में अवैध प्रवेश रही। इनके कुल 93 मामले सामने आये।

पिछले साल लगभग 4 करोड़ 10 लाख लोगों की निजी जानकारी लीक हुई। 2022 की तुलना में यह लगभग सात गुणा अधिक है, और एक रिकॉर्ड वृद्धि भी।

पिछले साल अक्तूबर में पता चला था कि दूरसंचार कम्पनी एनटीटी वेस्ट की एक सहायक कंपनी के पूर्व अस्थायी कर्मचारी ने लगभग 10 वर्षों की अवधि में करीब 90 लाख लोगों की निजी जानकारी चोरी की थी।

शोध संस्था के अधिकारियों का कहना है कि कई मामले कर्मचारियों की गलती और डाटा के खराब प्रबंधन के कारण हुए। अधिकारियों ने कहा कि ऐसे मामले रोकने के लिए कम्पनियों को डाटा सुरक्षा मज़बूत करने और कॉर्पोरेट प्रबंधन में सुधार करने की आवश्यकता है।