ट्रांसीवर बूम का लाभ उठाने में जुटी जापानी कंपनियाँ

अनेक लोगों के बीच एक साथ संचार स्थापित करने में सक्षम ट्रांससीवर की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है, जिसके मद्देनज़र जापानी कंपनियाँ अपने ट्रांसीवर उत्पादों तथा उनकी प्रणालियों को और उन्नत बनाने के लिए प्रेरित हुई हैं।

टेलीकॉम दिग्गज एनटीटी की एक सहायक कंपनी का कहना है कि वह अप्रैल से एक ऐप के माध्यम से ऐसी नयी सेवा शुरू करने जा रही है जिससे स्मार्टफ़ोन का उपयोग ट्रांसीवर के रूप में किया जा सकेगा।

इस ऐप के माध्यम से मोबाइल फ़ोन नेटवर्क से किसी भी दूरी से अधिकतम 3,500 लोग, एक साथ संचार व्यवस्था से जुड़ सकेंगे। यह बातचीत को लिखित रूप में स्वचालित ढंग से रिकॉर्ड भी कर लेगी।

कंपनी ने आशा व्यक्त की है कि खुदरा और निर्माण क्षेत्रों में यह सेवा बड़ै पैमाने पर अपनायी जाएगी।

पारंपरिक रेडियो ट्रांसीवर या वॉकी-टॉकी की माँग भी बढ़ रही है।

उत्तर अमरीकी बाज़ार में जेवीसीकेनवुड ने एक ऐसा नया मॉडल पेश किया है जो अलग-अलग फ़्रीक्वेंसी और अनेक संचार मानकों पर चल सकता है। कंपनी का कहना है कि इसकी जल प्रतिरोधकता और कार्यदक्षता में भी सुधार किया गया है।

जेवीसीकेनवुड के अधिकारी कोबायाशि हिरोमासा ने कहा, "प्रतिकूल परिस्थितियों में संचार व्यवस्था बनाये रखने वाले उपकरणों की बहुत माँग है, जिसे पूरा करने के लिए हम ट्रांसीवर बना रहे हैं।"

जेवीसीकेनवुड का कहना है कि वित्त वर्ष 2022 में उसकी ट्रांसीवर बिक्री में उससे पिछले वर्ष की तुलना में लगभग 40 प्रतिशत की बढ़त हुई थी।